मैथ क्वेश्चन एंड आंसर विद सॉल्यूशन | गणित के प्रश्न हिंदी

Facebook Twitter google+

गणित सभी परीक्षाओं के लिये बहुत महत्वपूर्ण विषय है। गणित के मिश्रण और पृथ्थीकरण तथा यौगिक प्रश्नों को समझने के लिये आपको विशेष परिश्रम की आवश्यकता होती है। इसलिये आपको प्रश्नों को ध्यान-पूर्वक पढ़ने की आवश्यकता है। यहाँ प्रदान किये गये गणित के प्रश्न आपको अलग अलग कैटेरी के रखे हैं जैसे मिक्सचर एंड एलिवेशन क्वेश्चन (मिश्रण और पृथ्थीकरण प्रश्न), एलसीएम एंड एचसीएफ क्वेश्चन (लघुत्तम-महत्तम समापवर्तक प्रश्न), एवरेज प्रॉब्लम ट्रेन क्वेश्चन हिंदी (औसत और ट्रेन के प्रश्न), प्रॉफिट एंड लॉस परसेंटेज क्वेश्चन (लाभ-हानि-प्रतिशत के प्रश्न), सिंपल एंड कंपाउंड इंटरेस्ट क्वेश्चन (साधारण-चक्रवृद्धि ब्याज प्रश्न), बोट एंड स्ट्रीम क्वेश्चन (नाव और धारा के अभ्यास प्रश्न), रेशों एंड प्रॉब्लम एज क्वेश्चन (अनुपात-समानुपात-आयु प्रश्न), टाइम - वर्क एंड डिस्टेंस क्वेश्चन (समय और कार्य के प्रश्न), टाइम एंड वर्क - स्पीड क्वेश्चन हिंदी (समय-चाल-दूरी के प्रश्न), एरिया एंड वॉल्यूम क्वेश्चन हिंदी (आयतन और क्षेत्रफल के प्रश्न) ये आपको एसएससीए, बैंकिंग, रेलवे परीक्षा, डिफेंस परीक्षा या अन्य परीक्षाओं में सफलता पाने के हेतु मददगार होगें। क्योंकि इस प्रकार के प्रश्न परीक्षाओं में अक्सर पूछे जाते हैं। यहां हर प्रकार की परीक्षाओं से सम्बन्धित गणित के प्रश्न उपलब्ध हैं। बेतहर परीक्षाओं में अंक अर्जित करने हेतु आप इस वेबसाइट के माध्यम से परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं। गणित जिनसे हम जोड़, घटाव, गुणा और भाग जैसी मूल चीजो को सीखते हैं। अन्य भाषाओ की तरह गणित भी एक तरह का भाषा ही है जो की अंक पर आधारित होते है यानी अंको के व्यवस्था को समझ जाते है तो फिर गणित समझना एकदम आसान होता है। जैसा की हम सब जानते है की लगातार अभ्यास से कठिन से कठिन कार्यो को आसान बनाया जा सकता है ऐसे में जरूरत हमे लगातार कोशिश करने की होती है गणित विषय शुरुआत में उतना कठिन नही होता है जितना यह लोगो द्वारा डर के कारण कठिन बना दिया जाता है। गणित एक ऐसा विषय है जिसका जितना अधिक अभ्यास करते है यह उतना ही आसान लगता है गणित के किसी भी चैप्टर शुरू होने या खत्म होने के बाद कुछ अभ्यास के प्रश्न दिये होते है जिनका हल भी अक्सर बताया होता है अब आप गणित पढ़ते है तो पहले उस चैप्टर को अच्छे से पढं़े और समझ ले फिर जो सवाल हल किये गये है आखिर वे किस कांसेप्ट से हल किये गये है यह पूरी अच्छे तरीके से समझने की कोशिश करे और यदि एक बार आपको उस चैप्टर के कांसेप्ट समझ जाते है तो फिर उससे जुडी चाहे कैसे भी गणित के प्रश्न होंगे आप आसानी से हल कर सकते है।